2 lines shayari in hindi - टू लाइन्स शायरी इन हिंदी?



अच्छा ही है वो ईद का चांद बना है मेरे लिए ,

वैसे भी रोज जश्न की आदत नहीं मुझे.......



अपनी तन्हाईयों से मजबूर , मैं ये खता कर गया ,,

वो बेजार सा सुनता रहा और मैं सबकुछ कह गया !



इस भागती हुई जिंदगी से कुछ बात कर लें ,

चलो आज तुम्हारी तमन्नाओं से मुलाकात कर लें !


जाने किस बात से समंदर का दिल भर गया ,

बड़े बेबाक होकर उसने जो आज किनारों से बात की !


जाने किस हरफ में जिन्दगी लिखती हैं अपनी कहानी ,

हाथ में सबके है पर पढ़ सका न कोई ..


वो आईना मेरी सूरत अब  पहचानता ही नहीं , लाया था जिसको घर में  मैंने अपने अक्स को देखकर ..


जो कभी सुना  नहीं हकीकतें वो मैं लिख रहा हूं ,

मैं वो मोहब्बत हूं जो तकदीर से लड़ रहा हूं !

       

मुझको मोहब्बत अगर तुम्हारे जिस्म़ से होती! 

तो तुमसे ही क्यूँ, फिर तो हजा़रों से होती!!



चाहने वालों को नहीं मिलते चाहने वाले। 


मैनें हर वफा़दार के साथ

दगाबाज़ ही देखा है।।



❣️. तेरी उंगलिया यू ही उलझी रही जो मेरे हाथ मे ❣️


 ❣️. तो यकीनन सारी उलझनों को हम सुलझा लेंगे❣️



बदतमीज तो हम बाद में बने,

सुना है पहले मासूम बहुत थे हम।

-

❣️. मुंतजिर रही मेरी निगाहे सदा तेरे दीदार की❣️


  ❣️.तेरे इंतजार ने ग़ाफ़िल मुझे पत्थर बना दिया❣️





Post a Comment

0 Comments