Cloud computing meaning in hindi | Types of cloud computing?

Cloud computing meaning in hindi | Types of cloud computing?

नमस्कार दोस्तों आप सब का स्वागत है मेरी वेबसाइट मे दोस्तों आज हम बात करने बाले है cloud computing kya hai (क्लाउड कंप्यूटिंग क्या है) cloud computing in hindi के बारे में।

दोस्तों cloud computing के बारे में हम आये दिन news और internet पर पड़ते रहते है
अगर आप क्लाउड कंप्यूटिंग के बारे में नही जानते या आप cloud computing के बारे मे detail में जानना चाहते है।

तो आप इस पोस्ट को पूरा जरूर पड़े पूरी क्युकि आज कि इस पोस्ट मे आपको cloud computing से जुडी सारी जानकारी देने बाला हु।


What is cloud computing (cloud computing kya hoti hai) Cloud computing in hindi?


जब हम अपने कंप्यूटर के बजाये इंटरनेट पर प्रोसेसिंग पावर, स्टोरेज या एप्लीकेशन को यूज़ करते है उसे cloud computing कहते है और 
यह सारी services हमें internet के जरिये ही available हो पाती है

Cloud computing in hindi example:-
यदि कोई internet के माध्यम से कोई भी सर्विस प्रोवाइडर service प्रोवाइड करता है उसे cloud computing कहते है यह सर्विस कुछ भी हो सकती है

जैसे:-

(1) Email (ईमेल)
(2) Website (वेबसाइट)
(3) Software (सॉफ्टवेयर)
(4) Dropbox (द्रोपबॉक्स)
(5) Flickr (फ्लिकर)
(6) Hubspot (हुबस्पॉट)
(7) Sales force (सेल्स फ़ोर्स)
(8) Amazon web services (अमेज़न वेब सर्विसेस)
(9) Slide Rocket (स्लाइड राकेट)
(10) IBM Cloud (ईबम क्लाउड)

(11) Google Docs (गूगल डॉक्स):- Google डॉक्स अपने users को प्रेजेंटेशन और डॉक्यूमेंट को अपने सर्वर में save करने की अनुमति देती है।

(12) Youtube (यूट्यूब) Youtube cloud computing का एक बेहतरीन उधारण है जो करोड़ो उसेर्स की वीडियो फाइल्स को अपने server में save कर के रखती है।

(13) Google Drive (गूगल ड्राइव):- यह भी cloud कंप्यूटिंग की एक example है।



Cloud computing की advantage क्या है?


Cloud कंप्यूटिंग में save की गई इनफार्मेशन को आप भविष्य में कही भी और कभी भी इस्तमाल कर सकते है।

Cloud computing से आप दुनिया के किसी भी कोने में रहकर अपनी save की गई information को एक्सेस कर सकते।

Gmail से excess कर सकते है google drive से या आप किसी भी वेबसाइट से कर सकते है।

Types of cloud computing?


(1) Public Cloud
(2) Private Cloud
(3) Hybrid Cloud
(4) Community Cloud

(1) Public Cloud:- पब्लिक cloud में कोई भी user उस इनफार्मेशन को एक्सेस कर सकता है
जैसे कि आप गूगल पर जाकर कोई भी topic पर search करते है और उसके बाद आप किसी भी इनफार्मेशन को excess लेते है उसे पब्लिक क्लोक कहते है।

(2) Private cloud:- जिसमे कोई user पेर्सनली अपनी इनफार्मेशन को एक्सेस करता है जैसे कि आपने अपने google drive में यूजर और पासवर्ड द्वारा login किया और अपनी information को store या retrive किया उसे Private cloud computing कहते है।

(3) Hybrid cloud:- यह पब्लिक और प्राइवेट क्लाउड कंप्यूटिंग का कॉम्बिनेशन होती है जैसे कि हमने फेसबुक पर कोई फोटो उपलोड कि लेकिन उस फोटो को हमारे सिवा कोई और भी डाउनलोड कर सकता है उसे हाइब्रिड क्लाउड कंप्यूटिंग कहते है।

(4) Community Cloud:- इसमें कुछ ही लोगो को फाइल्स एक्सेस करने कि परमिशन दी जाती है जैसे आपका एक group है और आपके ग्रुप ने एक website बनाई है और वही group उस वेबसाइट का इस्तेमाल कर पाता है और उस वेबसाइट पर उप्लोडेड फाइल्स का इस्तेमाल कर पाता है।

Leave a Comment