Mukta vati uses in hindi: फायदे, कीमत, खुराक, सामग्री, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

Mukta vati uses in hindi – दोस्तों अपने कभी ना कभी दिव्या मुक्ता वटी (Mukta vati) का नाम तो जरूर सुना होगा आप मे से बहुत लोगो ने इसका Use भी किया होगा और बहुत सारे लोग इसका यूज़ भी करते है।

तो दोस्तों आज मे आपको Patanjali Divya mukta vati uses in hindi के बारे मे पूरी जानकारी देने वाला हूं Divya mukta vati क्या होती है, Divya mukta vati कैसे काम करती है, mukta vati के लाभ क्या है दिव्या मुक्ता वटी कैसे यूज़ करे। (Divya Mukta vati Uses in hindi)

दिव्या मुक्ता वटी के side effect क्या-क्या है दिव्या मुक्ता वटी का प्रयोग किन किन रोगों को दूर करने के लिए किया जाता है और mukta vati का इस्तेमाल कैसे करें इत्यादि।

अगर आप भी mukta vati Uses in Hindi के बारे मे सम्पूर्ण जानकारी चाहते है तो आप इस आर्टिकल को पूरा जरूर पढ़े। (mukta vati in hindi)

Divya Mukta vati in Hindi – दिव्या मुक्ता वटी क्या है?

दिव्य मुक्ता वटी (Mukta Vati uses in Hindi) एक आयुर्वेदिक दवा है जिसे पतंजलि कंपनी द्वारा बनाया गया है मुक्ता वटी का मुख्य रूप से इस्तेमाल उच्च रक्तचाप (High blood pressure) अनिद्रा, गठिया, तंत्रिका संबंधी कमज़ोरी, घबराहट, सीने का दर्द, को कंट्रोल करता है। इसके साथ-साथ यह कोलेस्ट्रॉल (cholesterol) को नियंत्रित करने में फायदा करता है।

यह हाइपरटेंशन को भी कम करने में मदद करता है दिव्य मुक्ता वटी में Antidepressant, Antihypertensive और Sedative आदि के गुण है। इसका का उपयोग डॉक्टर क़ी सलाह पर ही किया जाना चाहिए। (Mukta vati in hindi)

Divya Mukta vati Price – दिव्य मुक्ता वटी क़ी कीमत।

अगर बात करें Divya Mukta vati price क़ी तो Pack of 1 (120 tablet) क़ी कीमत ₹,225 है जिसे आप अपने नजदीकी दवा केंदर से ले सकते है और आप इसे online भी खरीद सकते है अमेज़न और फ्लिपकार्ट जैसी वेबसाइट से।

TypePriceQuantity
Divya Mukta vatiRs, 225Pack of 1 (120 tablet)

Ingridients Of Mukta Vati | दिव्य मुक्ता वटी के मुख्य घटक।

दिव्य मुक्ता वटी में शंखपुष्पी, गिलोय, ब्राह्मी, बच, ज्योतिषमति शंखपुष्पी ,सर्पगंधा,जटामासी,अश्वगंधा ,मोती मिस्टी और प्रवाल पिष्टी सभी जड़ी बूटियों से मुक्तावटी को बनाया गया है।

Shankhpushpi + Giloy + Brahmi + Bach + Jyotishmati Shankhpushpi + Sarpagandha + Jatamasi + Ashwagandha + Moti Misti + Praval Pishti

How Patanjali Divya Mukta Vati works – मुक्ता वटी कैसे काम करती है?

दिव्य मुक्ता वटी को आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियों से मिलकर बनाया गया है इसमें ब्राह्मी, उग्रगंधा, शंखपुष्पी, गाजवां, उग्रगंधा, ज्योतिष्मती इत्यादि से निर्मित है।

  • ब्राह्मी: ब्राह्मी मानसिक समस्याओं से लड़ने में मदद करता है।
  • ज्योतिष्मती:  ज्योतिष्मती हृदय रोगों के उपचार में काफी असरदार है।
  • शंखपुष्पी: शंखपुष्पी तंत्रिका तंत्र की समस्याये, अनिद्रा, अवसाद, मिर्गी, रक्त-शनशोधन इत्यादि कार्यो में मदद करती है।
  • पुष्कमूल: पुष्कमूल रक्तचाप,(High Blood Pressure) कोलेस्ट्रॉल (Cholesterol) को नियंत्रण में रखने में मदद करता है।
  • उग्रगन्धा: उग्रगन्धा स्मरण शक्ति, ध्यान और दिमाग को बेहतर बनाने मे मदद करता है।

इन सभी आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियों से दिव्य मुक्ता वटी को बनाया गया है इन सभी घटको के कारण मुक्ता वटी मे निम्न गुण पाए जाते है।

Mukta Vati benefits in Hindi – मुक्ता वटी के फायदे।

दिव्य मुक्ता वटी इन बिमारियों के इलाज में काम आती है।

  • Patanjali Divya Mukta Vati रक्तचाप और कोलेस्ट्रॉल (Cholesterol) को नियंत्रित रखता है।
  • Divya Mukta Vati मानसिक विकारो के इलाज के लिए बेहद कारगर है।
  • दिव्य मुक्ता वटी तनाव, अवसाद, चिड़चिड़ापन, अकारण गुस्सा जैसी गंभीर समस्याओं को दूर करने में मदद करता है।
  • किडनी (Kidney)और कोलेस्ट्रॉल (Cholesterol) विकार के कारण हृदय रोग मे मुक्ता वटी मदद करती है।
  • दिव्य मुक्ता वटी अनिद्रा के मरीजो के लिए काफी असरदार है।

Mukta Vati uses in Hindi – मुक्ता वटी के उपयोग।

निम्न रोगों के उपचार के लिए Divya Mukta Vati का उपयोग किया जाता है।

  1. रक्त शुद्ध करें
  2. दिल की रक्षा करें
  3. शरीर में सूजन कम करें
  4. जिगर की रक्षा करें
  5. अनिद्रा का इलाज करें
  6. तनाव और चिंता को दूर करें

Dosage of Divya Mukta Vati in Hindi – दिव्या मुक्ता वटी की सामान्य खुराक।

  • Divya Mukta Vati की खुराक Doctor (डॉक्टर) द्वारा निर्धारित की जाती है। वे व्यक्ति की आय, लिंग, वजन और स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए Divya Mukta Vati की मात्रा को बढ़ा या घटा सकते हैं। (Divya Mukta Vati uses in hindi)
  • खाना खाने के बाद आपको इस दवा को लेना है।
  • गुनगुने पानी के साथ आपको इस दवा को लेना है और आपको टेबलेट को तोड़कर या चबाकर नहीं लेना है।
  • आपको इस टेबलेट को दिन 2 बारे से अधिक नहीं लेना है आपको इसकी सुबह और शाम को एक एक गोली लेनी है।
  • बच्चों को देने से पहले डॉक्टर क़ी सलाह अवश्य ले
  • गर्भवती महिलाये Mukta Vati को लेने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले।
  • रोगी की स्थिति या प्रतिक्रिया के आधार पर डॉक्टर (Doctor) इसकी खुराक को बदल देता है।
  • डॉक्टर की उचित सलाह के बिना खुराक में बदलाव से बचना चाहिए।
  • अच्छे परिणाम के लिए दवा को नियमित समय पर ले।
  • दवा को लेते समय दवा क़ी Expire Date और Tablet के पीछे लिखे दिशा-निर्देशों को जरूर पढ़ें।

Missed Dose – छूटी हुई खुराक:

अगर आप गलती से दिव्या मुक्ता वटी की खुराक लेना भूल जाते है तो आप उस खुराक को समय रहते ले सकते है लेकिन दयान रहे अगर आपकी दूसरी खुराक लेने का समय हो गया है तो आपको दोनों खुराको को एक साथ नहीं लेना है।

Overdose – ओवरडोज:

आपको Divya Mukta Vati का ओवरडोज़ नहीं लेना है। यदि आपने दिव्या मुक्ता वटी की निर्धारित गोलियों से अधिक लिया है तो आपके शरीर पर इसके हानिकारक प्रभाव पड़ने की संभावना है। ओवरडोज़ की स्थिति में अपने नजदीकी चिकित्सा केंद्र डॉक्टर से सलाह करें।

Mukta Vati Storage – मुक्ता वटी को कैसे स्टोर करें?

  • Store करने से पहले tablet के पैकेट (Packet) पर लिखे निर्देशों को पढ़ें।
  • नमी और धूप जैसे स्थानों से इस टैबलेट को बचाएं।
  • बच्चों और जानवरों से इस दवा को दूर रखे।

Divya Mukta Vati Side Effects in Hindi | दिव्या मुक्ता वटी के दुष्प्रभाव।

यदि आप मुक्ता वटी दवा का निर्धारित खुराक से अधिक मात्रा में उपयोग करते है तो आपको इसके कुछ साइड इफेक्ट्स भी देखने को मिल सकते है वियाग्रा टेबलेट के कुछ Side इफेक्ट्स नीचे दिए गए हैं।

  • नाक बंद
  • हल्का सरदर्द
  • मुह मे सूखापन
  • सुबह की सुस्ती
  • नाक बंद के कारण रात को सांस मे तकलीफ

यदि आप किसी भी साइड इफेक्ट्स का अनुभव करते हैं। और आपके लक्षण लंबे समय तक बने रहते है तो आप अपने नजदीकी चिकित्सा केंद्र में डॉक्टर से संपर्क करें ।

Divya Mukta Vati Precautions in Hindi – दिव्या मुक्ता वटी की सावधानियां हिंदी में।

  • यदि आपको Divya Mukta Vati से एलर्जी (Alergy) है तो आप इस टेबलेट का सेवन न करें।
  • दिव्या मुक्ता वटी दवा को तय खुराक से ज़्यादा ना लें।
  • मुक्ता वटी को लेते समय शराब का सेवन न करें।
  • दवा खरीदते समय ध्यान दें की टैबलेट (Tablet) का पैक पहले खुला ना हो।
  • यदि आप पहले से ही अन्य दवाएं ले रहे है तो आप इसका का यूज़ करने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर लें।
  • मुक्ता वटी की ओवरडोज स्थिति में आप इसे लेना बंद कर दें और तुरंत नजदीकी चिकित्सा या डॉक्टर से सलाह परामर्श करें।
Conclusion

दोस्तों आशा करता हूं आपको Mukta Vati Uses in hindi जानकारी आपको जरूर अच्छी लगी होगी अगर इसके रिलेटेड आपके मन मे कोई सवाल है तो आप हमे comment बॉक्स मे पूछ सकते है जानकारी अच्छी लगने पर शेयर जरूर करें।

Disclaimer

Note:- हमारी वेबसाइट Aksmartsupport.com में विभिन्न चिकित्सा स्थितियों और उनके उपचार से संबंधित सामान्य जानकारी प्रदान करती है।और ऐसी जानकारी केवल सूचना के उद्देश्यों के लिए प्रदान की जाती है और इसका मतलब डॉक्टर या अन्य योग्य स्वास्थ्य देखभाल पेशेवर द्वारा प्रदान की गई सलाह का विकल्प नहीं है। मरीजों को यहां निहित जानकारी का उपयोग हीथ या फिटनेस समस्या या बीमारी के निदान के लिए नहीं करना चाहिए। निदान और उपचार के बारे में चिकित्सीय सलाह या जानकारी के लिए मरीजों को हमेशा डॉक्टर या अन्य स्वास्थ्य देखभाल पेशेवर से परामर्श लेना चाहिए।

Leave a Comment